उत्तर पश्चिम दिल्ली सीट : डॉ. उदित राज ने बढ़ाई बीजेपी की टेंशन, जल्दबाजी में उतारने पड़ गए हैं स्टार प्रचारक

उदित राज के माइक्रो मैनेजमेंट से डरी बीजेपी

नई दिल्ली।

पिछले दो लोकसभा चुनावों में दिल्ली की सभी सात सीटों पर क्लीन स्वीप करने वाली बीजेपी का मंसूबा इस बार पूरा होता नहीं दिख रहा है। उत्तर पश्चिम दिल्ली में बीजेपी को इंडिया गठबंधन के प्रत्याशी डॉ. उदित राज से कड़ी टक्कर मिल रही है। बल्कि उन्होंने अपनी मेहनत से इस सीट को एक तरफा बना दिया है। उनका माइक्रो मैनेजमेंट कहीं न कहीं बीजेपी पर हावी दिख रहा है। यहीं वजह है कि बीजेपी को अपने प्रत्याशियों के प्रचार के लिए स्टार प्रचारकों को उतारना पड़ गया है। शनिवार को बीजेपी के प्रत्याशी योगेंद्र चंदोलिया के पक्ष में राजनाथ सिंह प्रचार करने आने वाले थे परंतु अंतिम समय पर वह नहीं आए तो आनन फानन में पूर्व सेनाध्यक्ष वी के सिंह और केंद्रीय मंत्री अर्जुन मेघवाल को बुलाया गया। ऐसा माना जा रहा है कि डॉ. उदित राज के बढ़ते कद की वजह से बीजेपी में इस सीट को हारने का डर पैदा हो गया है। इस वजह से ही अब स्टार प्रचारक सड़कों पर उतर आए हैं।

डॉ. उदित राज उत्तर पश्चिम लोकसभा सीट से बीजेपी के सांसद रह चुके हैं। और 2024 के लोकसभा चुनाव में इंडिया गठबंधन के प्रत्याशी डॉ. उदित राज बनाए गए हैं। क्षेत्र में ऐसा कहा जा रहा है कि बीजेपी और चंदोलिया के मंसूबे पर डॉ. उदित राज पानी फेर सकते हैं। सांसद रहते उन्होंने क्षेत्र के लिए विकास का काम किया। उन्हें विकास पुरुष की संज्ञा भी दी जाती है। और अभी भी वह ‘काम किया है काम करेंगे’ नारे के साथ लोगों के बीच जन संपर्क साध रहे हैं।

उत्तर पश्चिम दिल्ली का राजनीति में अलग रसूख

बता दें कि राजधानी की सात लोकसभा सीटों में शामिल उत्तर-पश्चिमी दिल्ली का राजनीति में अलग रसूख है, क्योंकि इस निर्वाचन क्षेत्र में शहरी इलाका और कच्ची कॉलोनियों के साथ ग्रामीण क्षेत्र की भी अच्छी खासी हिस्सेदारी है। यहां मिश्रित आबादी निर्णय लेती है। यह सीट अनुसूचित जाति के उम्मीदवार के लिए आरक्षित की गई है। इस निर्वाचन क्षेत्र में दिल्ली के लगभग 125 गांव और 200 से अधिक अनधिकृत कॉलोनियां शामिल हैं। मंगोलपुरी और सुल्तानपुरी जैसी पुनर्वास कॉलोनी भी इसी क्षेत्र में हैं, जिनकी आबादी ही पांच लाख से अधिक मानी जाती है। मंगोलपुर कलां का पत्थर बाजार और नरेला का बाजार इस क्षेत्र के मुख्य बाजारों में शामिल हैं। इसमें 10 विधानसभा क्षेत्र शामिल हैं।

काम के आधार पर मांग रहे वोट

डॉ. उदित राज ‘काम किया है काम करेंगे’ के तहत इस क्षेत्र में वोट मांग रहे हैं। उनके किए गए पहले के कार्यों और भविष्य की योजनाओं को देखते हुए लोग उन्हें भारी समर्थन दे रहे हैं। शनिवार को उन्होंने बाजितपुर ठाकरान गांव के अंबेडकर भवन में जनसभा को संबोधित किया। जहां उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि अगर देश में निष्पक्षता लाना चाहते हैं तो कांग्रेस को चुने। इसके बाद सेक्टर 9ए नरेला में कार्यालय का उद्घाटन किया और शाहपुर गढ़ी जाकर जनसमूह को आश्वासन देते हुए नरेला तक मेट्रो लाने की उनकी प्राथमिकता से अवगत कराया। सभी जगह से उन्हें भारी जनसमर्थन प्राप्त हुआ। उनके आज के अभियान में पूर्व विधायक श्री जसवंत राणा, राजेंद्र कर्दम, अशोक नैन, राकेश कुमार, सतबीर पोनी, रतनलाल, आनंद चौहान, विशाल मान, महेंद्र खत्री, दीप खत्री, निर्मला खत्री, मोहित गुप्ता, लालू प्रधान, कल्लू प्रधान, अजीव गुप्ता, अरूणा और धनेश्वरी जी सहित अन्य सम्मानित साथियों की उपस्थिति रही। उन्होंने सभी साथियों का उनके लिए सहयोग करने पर धन्यवाद किया, वहीं शाहपुर गढ़ी गांव में स्वागत सत्कार करने के लिए अनिल और सरला जी का आभार जताया।

prateeksha thakur

Related Posts

चौथा राष्ट्रीय अटल अवार्ड: विभिन्न क्षेत्रों में अनुकरणीय योगदान के लिए उत्कृष्टता को किया गया सम्मानित

भाजपा के वरिष्ठ नेता और हिमाचल प्रदेश के प्रभारी, अभिनाश राय खन्ना बतौर मुख्यातिथि उपस्थित हुए। 37 लोगों को दिया गया यह सम्मान नई दिल्ली, 21 जून, 2024: दिल्ली में…

Read more

तेलंगाना के 11 से 16 वर्ष के चार युवा एडवेंचरर्स ने हासिल की नई ऊंचाईयां

विनर्स एंड अचीवर्स ने आयोजित किया इन युवाओं के लिए एडवेंचरर्स कैंप नई दिल्ली, – 19 June, 2024: प्रसिद्ध पर्वतारोही सत्यरूप सिद्धांत की एडवेंचर कंपनी विनर्स एंड अचीवर्स और रांची…

Read more

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

धर्म

अयोध्या: रामलला की प्राण प्रतिष्ठा कराने वाले पंडित लक्ष्मीकांत दीक्षित का 86 साल की उम्र में देहांत

अयोध्या: रामलला की प्राण प्रतिष्ठा कराने वाले पंडित लक्ष्मीकांत दीक्षित का 86 साल की उम्र में देहांत

रामचरितमानस और पंचतंत्र को UNESCO की तरफ से मिली मान्यता,’मेमोरी ऑफ द वर्ल्ड’ एशिया-पैसिफिक रीजनल रजिस्टर में होंगे शामिल

रामचरितमानस और पंचतंत्र को UNESCO की तरफ से मिली मान्यता,’मेमोरी ऑफ द वर्ल्ड’ एशिया-पैसिफिक रीजनल रजिस्टर में  होंगे शामिल

बीकानेर हाउस में आयोजित नौ दिवसीय ‘राजस्थान उत्सव-2024 में राजस्थानी हस्तशिल्प मेले का हुआ समापन

बीकानेर हाउस में आयोजित नौ दिवसीय ‘राजस्थान उत्सव-2024 में राजस्थानी हस्तशिल्प मेले का हुआ समापन

सड़क पर नमाज पढ़ रहे लोगों को पीटने वाला पुलिसकर्मी निलंबित: लोगों ने की कड़ी कार्रवाई की मांग

सड़क पर नमाज पढ़ रहे लोगों को पीटने वाला पुलिसकर्मी निलंबित: लोगों ने की कड़ी कार्रवाई की मांग

बैद्यनाथ धाम के पंचशूल में छिपी हैं कुछ अनसुनी कहानियां जानिए वहां क्या है खास ?

बैद्यनाथ धाम के पंचशूल में छिपी हैं कुछ अनसुनी कहानियां जानिए वहां क्या है खास ?

महाशिवरात्रि पर बैद्यनाथ धाम में भक्तों की भरमार, हर-हर महादेव की जय जयकार! ; देर शाम को निकलेगी शिव बारात

महाशिवरात्रि पर बैद्यनाथ धाम में भक्तों की भरमार, हर-हर महादेव की जय जयकार! ; देर शाम को निकलेगी शिव बारात