सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला: हर नागरिक को असहमति व्यक्त करने और आलोचना करने का अधिकार

सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला: हर नागरिक को असहमति व्यक्त करने और आलोचना करने का अधिकार

हर नागरिक को असहमति व्यक्त करने और आलोचना करने का अधिकार: सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्ली,8 मार्च 2024

सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुनाते हुए कहा है कि हर नागरिक को अपनी आपत्ति जताने और आलोचना करने का हक है। इस फैसले में, सुप्रीम कोर्ट ने यह भी चेतावनी दी है कि यदि हर आलोचना को अपराध माना जाएगा तो लोकतंत्र का सुरक्षित रहना मुश्किल है।

इस फैसले को न्यायाधीश अभय एस ओका और उज्ज्वल भुयान की बेंच ने दिया। जिन्होंने एक प्रोफेसर के खिलाफ दर्ज किए गए मामले को खारिज कर दिया, जिन्होंने धारा 370 की रद्दी की आलोचना की थी। प्रोफेसर पर पाकिस्तान के स्वतंत्रता दिवस पर शुभकामनाएं भेजने का आरोप लगा था।
महाराष्ट्र पुलिस ने प्रोफेसर जावेद अहमद हाजम पर व्हाट्सएप मैसेज के ज़रिए धारा 370 रद्द करने की आलोचना करने पर एफआईआर दर्ज की थी। जिसमें उनके खिलाफ धारा 153A के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था।

जिसके बाद यह मामला बॉम्बे हाईकोर्ट चला गया था जहां कोर्ट ने एफआईआर खारिज करने से मना कर दिया था। इसके फैसले में, बॉम्बे हाईकोर्ट ने कहा था कि ऐसे मैसेज से विभिन्न समूहों में वैर–विरोध की भावना को बढ़ावा मिल सकता है।

वहीं सुप्रीम कोर्ट ने भारतीय संविधान के मौलिक अधिकारों में से एक जो हर नागरिक को भाषण और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता की देता है के तहत हाजम के खिलाफ शिकायत को खारिज करने का निर्णय लिया है।

सुप्रीम कोर्ट का कहना है की भारत के प्रत्येक नागरिक को धारा 370 रद्द करने और जम्मू-कश्मीर की स्थिति में परिवर्तन की आलोचना करने का हक है। उस दिन को ‘काला दिन’ कहना एक प्रतिवाद और दुख की अभिव्यक्ति है। यदि राज्य के क्रियाओं की हर आलोचना या प्रतिवाद को धारा 153-ए के तहत अपराध माना जाएगा, तो हमारे संवैधानिक देश में लोकतंत्र, जीवित नहीं रहेगा”।

prateeksha thakur

Related Posts

चौथा राष्ट्रीय अटल अवार्ड: विभिन्न क्षेत्रों में अनुकरणीय योगदान के लिए उत्कृष्टता को किया गया सम्मानित

भाजपा के वरिष्ठ नेता और हिमाचल प्रदेश के प्रभारी, अभिनाश राय खन्ना बतौर मुख्यातिथि उपस्थित हुए। 37 लोगों को दिया गया यह सम्मान नई दिल्ली, 21 जून, 2024: दिल्ली में…

Read more

तेलंगाना के 11 से 16 वर्ष के चार युवा एडवेंचरर्स ने हासिल की नई ऊंचाईयां

विनर्स एंड अचीवर्स ने आयोजित किया इन युवाओं के लिए एडवेंचरर्स कैंप नई दिल्ली, – 19 June, 2024: प्रसिद्ध पर्वतारोही सत्यरूप सिद्धांत की एडवेंचर कंपनी विनर्स एंड अचीवर्स और रांची…

Read more

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

धर्म

अयोध्या: रामलला की प्राण प्रतिष्ठा कराने वाले पंडित लक्ष्मीकांत दीक्षित का 86 साल की उम्र में देहांत

अयोध्या: रामलला की प्राण प्रतिष्ठा कराने वाले पंडित लक्ष्मीकांत दीक्षित का 86 साल की उम्र में देहांत

रामचरितमानस और पंचतंत्र को UNESCO की तरफ से मिली मान्यता,’मेमोरी ऑफ द वर्ल्ड’ एशिया-पैसिफिक रीजनल रजिस्टर में होंगे शामिल

रामचरितमानस और पंचतंत्र को UNESCO की तरफ से मिली मान्यता,’मेमोरी ऑफ द वर्ल्ड’ एशिया-पैसिफिक रीजनल रजिस्टर में  होंगे शामिल

बीकानेर हाउस में आयोजित नौ दिवसीय ‘राजस्थान उत्सव-2024 में राजस्थानी हस्तशिल्प मेले का हुआ समापन

बीकानेर हाउस में आयोजित नौ दिवसीय ‘राजस्थान उत्सव-2024 में राजस्थानी हस्तशिल्प मेले का हुआ समापन

सड़क पर नमाज पढ़ रहे लोगों को पीटने वाला पुलिसकर्मी निलंबित: लोगों ने की कड़ी कार्रवाई की मांग

सड़क पर नमाज पढ़ रहे लोगों को पीटने वाला पुलिसकर्मी निलंबित: लोगों ने की कड़ी कार्रवाई की मांग

बैद्यनाथ धाम के पंचशूल में छिपी हैं कुछ अनसुनी कहानियां जानिए वहां क्या है खास ?

बैद्यनाथ धाम के पंचशूल में छिपी हैं कुछ अनसुनी कहानियां जानिए वहां क्या है खास ?

महाशिवरात्रि पर बैद्यनाथ धाम में भक्तों की भरमार, हर-हर महादेव की जय जयकार! ; देर शाम को निकलेगी शिव बारात

महाशिवरात्रि पर बैद्यनाथ धाम में भक्तों की भरमार, हर-हर महादेव की जय जयकार! ; देर शाम को निकलेगी शिव बारात