मध्य प्रदेश  में इस जिले की स्वास्थ्य व्यवस्था चरमराई, न मिल रहे डॉक्टर न नर्स 

धार: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने धार शहर को एक अस्पताल और मेडिकल कॉलेज की सौगात दी। लेकिन वहां काम करने के लिए पर्याप्त डॉक्टर और अन्य स्टाफ नहीं हैं, इसलिए अस्पताल लोगों की ठीक से मदद नहीं कर पा रहा है. इस वजह से, लोगों को अपनी ज़रूरत की चिकित्सा सहायता पाने के लिए बड़े शहरों या अन्य राज्यों की यात्रा करनी पड़ती है। सरकार ने अस्पताल के लिए अधिक डॉक्टरों और कर्मचारियों को नियुक्त करने के लिए बहुत कुछ नहीं किया है। डॉक्टरों, नर्सों और अन्य महत्वपूर्ण कर्मचारियों के लिए बहुत सारे पद खाली हैं। इसका मतलब यह है कि मरीजों की देखभाल के लिए पर्याप्त लोग नहीं हैं। जिले के लोगों की मदद के लिए अस्पताल को वास्तव में विशेषज्ञ डॉक्टरों, नर्सों और अन्य कर्मचारियों की आवश्यकता है। जिले में कई स्वास्थ्य केंद्र हैं, लेकिन उनमें भी पर्याप्त संसाधन और स्टाफ नहीं है. इससे लोगों को घर के नजदीक आवश्यक चिकित्सा देखभाल प्राप्त करना कठिन हो जाता है।

मुख्य इलाके के अस्पताल में दवा और उपकरण जैसी पर्याप्त चीजें नहीं हैं. यदि उनके पास ये चीज़ें अधिक होतीं, तो आस-पास रहने वाले लोगों को बीमार होने पर बेहतर मदद मिल सकती थी। उन्हें हर किसी की मदद के लिए अस्पताल में काम करने के लिए और अधिक लोगों की भी आवश्यकता है।

आपको बताते चले प्रथम श्रेणी से लेकर तृतीय श्रेणी तक के पद खाली जिले में प्रथम श्रेणी के डॉक्टर की बात की जाए तो 123 पद स्वीकृत है। इसमें ३९ पद भरे हुए और ८४ पद रिक्त है। द्तिीय श्रेणी के डॉक्टर व अन्य में कुल 141 पद स्वीकृत हैं, इसमें 114 पद भरें हुए व २७ पद अभी भी खाली हैं। तृतीय श्रेणी की बात की जाए तो इसमें कुल 1854 पद स्वीकृत हैं और १२४० पद भरें हुए। ६१४ पद अभी भी खाली पड़े हैं। अभी तक इन पदों पर नियुक्ति नहीं हुई है। अस्पताल के सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार जिले में कई ग्रामीणों में विशेषज्ञ डॉक्टर, नर्स व कंपाउडर की बेहद आवश्यकता है, लेकिन यहां पर नियुक्ति नहीं हो रही है। गहराई से देखा जाए तो बाकी जगह का हाल भी कोई ज्यादा अच्छा  नहीं है

हम अपने जिले में स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने के लिए बैठकें और प्रशिक्षण सत्र कर रहे हैं। हम यह भी सुनिश्चित कर रहे हैं कि पर्याप्त चिकित्सा उपकरण और संसाधन उपलब्ध हों। हमारे डॉक्टर और स्टाफ सदस्य मरीजों को सर्वोत्तम संभव देखभाल देने के लिए मिलकर काम कर रहे हैं। धार में स्वास्थ्य सेवा के प्रभारी डॉ. नरसिंह गेहलोत इन प्रयासों का नेतृत्व कर रहे हैं।

  • bureau jabalpurpatrika

    Related Posts

    चौथा राष्ट्रीय अटल अवार्ड: विभिन्न क्षेत्रों में अनुकरणीय योगदान के लिए उत्कृष्टता को किया गया सम्मानित

    भाजपा के वरिष्ठ नेता और हिमाचल प्रदेश के प्रभारी, अभिनाश राय खन्ना बतौर मुख्यातिथि उपस्थित हुए। 37 लोगों को दिया गया यह सम्मान नई दिल्ली, 21 जून, 2024: दिल्ली में…

    Read more

    तेलंगाना के 11 से 16 वर्ष के चार युवा एडवेंचरर्स ने हासिल की नई ऊंचाईयां

    विनर्स एंड अचीवर्स ने आयोजित किया इन युवाओं के लिए एडवेंचरर्स कैंप नई दिल्ली, – 19 June, 2024: प्रसिद्ध पर्वतारोही सत्यरूप सिद्धांत की एडवेंचर कंपनी विनर्स एंड अचीवर्स और रांची…

    Read more

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    धर्म

    अयोध्या: रामलला की प्राण प्रतिष्ठा कराने वाले पंडित लक्ष्मीकांत दीक्षित का 86 साल की उम्र में देहांत

    अयोध्या: रामलला की प्राण प्रतिष्ठा कराने वाले पंडित लक्ष्मीकांत दीक्षित का 86 साल की उम्र में देहांत

    रामचरितमानस और पंचतंत्र को UNESCO की तरफ से मिली मान्यता,’मेमोरी ऑफ द वर्ल्ड’ एशिया-पैसिफिक रीजनल रजिस्टर में होंगे शामिल

    रामचरितमानस और पंचतंत्र को UNESCO की तरफ से मिली मान्यता,’मेमोरी ऑफ द वर्ल्ड’ एशिया-पैसिफिक रीजनल रजिस्टर में  होंगे शामिल

    बीकानेर हाउस में आयोजित नौ दिवसीय ‘राजस्थान उत्सव-2024 में राजस्थानी हस्तशिल्प मेले का हुआ समापन

    बीकानेर हाउस में आयोजित नौ दिवसीय ‘राजस्थान उत्सव-2024 में राजस्थानी हस्तशिल्प मेले का हुआ समापन

    सड़क पर नमाज पढ़ रहे लोगों को पीटने वाला पुलिसकर्मी निलंबित: लोगों ने की कड़ी कार्रवाई की मांग

    सड़क पर नमाज पढ़ रहे लोगों को पीटने वाला पुलिसकर्मी निलंबित: लोगों ने की कड़ी कार्रवाई की मांग

    बैद्यनाथ धाम के पंचशूल में छिपी हैं कुछ अनसुनी कहानियां जानिए वहां क्या है खास ?

    बैद्यनाथ धाम के पंचशूल में छिपी हैं कुछ अनसुनी कहानियां जानिए वहां क्या है खास ?

    महाशिवरात्रि पर बैद्यनाथ धाम में भक्तों की भरमार, हर-हर महादेव की जय जयकार! ; देर शाम को निकलेगी शिव बारात

    महाशिवरात्रि पर बैद्यनाथ धाम में भक्तों की भरमार, हर-हर महादेव की जय जयकार! ; देर शाम को निकलेगी शिव बारात