अब अंडर वॉटर दौड़ेगी मेट्रो, कोलकाता में पीएम नरेंद्र मोदी ने किया पहली अंडरवॉटर मेट्रो का उद्घाटन

कोलकाता मेट्रो ने हावड़ा मैदान-एस्प्लेनेड सेक्शन के बीच यह अंडरवॉटर मेट्रो टनल बनाया है, जो हुगली नदी के तल से 32 मीटर नीचे स्थित है। इस टनल को निर्मित करके कोलकाता मेट्रो ने भारत में किसी भी नदी के नीचे बनाए जाने वाले पहले ट्रांसपोर्ट टनल का इतिहास रचा है।

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज देश की पहली अंडरवॉटर मेट्रो ट्रेन का उद्घाटन किया, जिसका निर्माण कोलकाता की हुगली नदी के नीचे किया गया है। कुछ दिन पहले ही रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कोलकाता मेट्रो रेल सेवाओं की समीक्षा की थी, और आज पीएम मोदी ने इसे देश के समर्थन में समर्पित किया है।
प्रधानमंत्री मोदी ने मेट्रो का उद्घाटन करने के बाद स्कूल के बच्चों के साथ मेट्रो में सफर किया और उनके साथ बातचीत भी की। इसके अलावा, पीएम मोदी ने कोलकाता से ही आगरा मेट्रो का वर्चुअल उद्घाटन किया है, जो ताजमहल मेट्रो स्टेशन से हुआ।

हावड़ा मैदान-एस्प्लेनेड सेक्शन के बीच दौड़ती हुई यह अंडर वॉटर मेट्रो टनल हुगली नदी के तल से 32 मीटर नीचे बनाया गया है, जिससे यह भारत में किसी भी नदी के नीचे बनाए गए पहले ट्रांसपोर्ट टनल का उदाहरण है। इस मेट्रो का दावा है कि यह हुगली नदी के नीचे 520 मीटर की दूरी को सिर्फ 45 सेकेंड में पार कर सकता है।

हावड़ा मैदान से एस्प्लेनेड तक तैयार होने वाले 4.8 किलोमीटर के रूट में, हावड़ा मैदान, हावड़ा स्टेशन, महाकरण, और एस्प्लेनेड हावड़ा स्टेशन शामिल हैं, जो जमीन से 30 किलोमीटर नीचे स्थित हैं। इस मेट्रो रूट में बने हुए ये चार अंडरग्राउंड स्टेशन दुनिया के सबसे गहरे मेट्रो स्टेशनों में शामिल हैं, इससे पहले लंदन और पेरिस में इस तरह के मेट्रो रूट बनाए गए हैं।

कोलकाता मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन के डायरेक्टर सैयद मो. जमील हसन ने बताया कि 2010 में टनल निर्माण का कॉन्ट्रैक्ट एफकॉन्स कंपनी को सौंपा गया था, जिसने हेरेनकनेक्ट सेल बोरिंग मशीन (टीबीएम) को जर्मन से मंगवाया।

इस प्रोजेक्ट में दो मुख्य चुनौतियां थीं: सही मिट्टी का चयन और टीबीएम की सुरक्षा का स्वास्थ्य। सर्वे के बाद, हावड़ा ब्रिज से हुगली नदी के तल से 13 मीटर नीचे की मिट्टी का चयन किया गया।

Related Posts

चौथा राष्ट्रीय अटल अवार्ड: विभिन्न क्षेत्रों में अनुकरणीय योगदान के लिए उत्कृष्टता को किया गया सम्मानित

भाजपा के वरिष्ठ नेता और हिमाचल प्रदेश के प्रभारी, अभिनाश राय खन्ना बतौर मुख्यातिथि उपस्थित हुए। 37 लोगों को दिया गया यह सम्मान नई दिल्ली, 21 जून, 2024: दिल्ली में…

Read more

तेलंगाना के 11 से 16 वर्ष के चार युवा एडवेंचरर्स ने हासिल की नई ऊंचाईयां

विनर्स एंड अचीवर्स ने आयोजित किया इन युवाओं के लिए एडवेंचरर्स कैंप नई दिल्ली, – 19 June, 2024: प्रसिद्ध पर्वतारोही सत्यरूप सिद्धांत की एडवेंचर कंपनी विनर्स एंड अचीवर्स और रांची…

Read more

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

धर्म

अयोध्या: रामलला की प्राण प्रतिष्ठा कराने वाले पंडित लक्ष्मीकांत दीक्षित का 86 साल की उम्र में देहांत

अयोध्या: रामलला की प्राण प्रतिष्ठा कराने वाले पंडित लक्ष्मीकांत दीक्षित का 86 साल की उम्र में देहांत

रामचरितमानस और पंचतंत्र को UNESCO की तरफ से मिली मान्यता,’मेमोरी ऑफ द वर्ल्ड’ एशिया-पैसिफिक रीजनल रजिस्टर में होंगे शामिल

रामचरितमानस और पंचतंत्र को UNESCO की तरफ से मिली मान्यता,’मेमोरी ऑफ द वर्ल्ड’ एशिया-पैसिफिक रीजनल रजिस्टर में  होंगे शामिल

बीकानेर हाउस में आयोजित नौ दिवसीय ‘राजस्थान उत्सव-2024 में राजस्थानी हस्तशिल्प मेले का हुआ समापन

बीकानेर हाउस में आयोजित नौ दिवसीय ‘राजस्थान उत्सव-2024 में राजस्थानी हस्तशिल्प मेले का हुआ समापन

सड़क पर नमाज पढ़ रहे लोगों को पीटने वाला पुलिसकर्मी निलंबित: लोगों ने की कड़ी कार्रवाई की मांग

सड़क पर नमाज पढ़ रहे लोगों को पीटने वाला पुलिसकर्मी निलंबित: लोगों ने की कड़ी कार्रवाई की मांग

बैद्यनाथ धाम के पंचशूल में छिपी हैं कुछ अनसुनी कहानियां जानिए वहां क्या है खास ?

बैद्यनाथ धाम के पंचशूल में छिपी हैं कुछ अनसुनी कहानियां जानिए वहां क्या है खास ?

महाशिवरात्रि पर बैद्यनाथ धाम में भक्तों की भरमार, हर-हर महादेव की जय जयकार! ; देर शाम को निकलेगी शिव बारात

महाशिवरात्रि पर बैद्यनाथ धाम में भक्तों की भरमार, हर-हर महादेव की जय जयकार! ; देर शाम को निकलेगी शिव बारात