चुनाव आयोग सभी उम्मीदवारों को चुनाव लड़ने के लिए बतौर साधन मुहैया कराए धन: अखिल भारतीय मानवतावादी पार्टी

बतौर प्रचार दो गाड़ी, दो सुरक्षा कर्मी और पांच समर्थक और दो महीने के प्रचार की मांग

पार्टियों को हो प्रचार पर रोक, उम्मीदवारों/ जन प्रतिनिधियों द्वारा तीन साल में वादा नही पूरा करने पर संपत्ति जब्त का चुनाव आयोग को हो प्रावधान

नामांकन पत्र के साथ कंडीशन पत्र भी संलग्न करने की मांग

चुनाव आयोग राजनीतिक दलों का पुराना चुनाव चिन्ह करें समाप्त और सभी उम्मीदवारों का बिना भेदभाव एक साथ चुनाव चिन्ह देने का बनाए नियम

घोषणा पत्र के साथ लोकसभा चुनाव के लिए कंडीशन लगाकर उम्मीदवारों के नामों का भी किया ऐलान

नई दिल्ली, 19th मार्च, 2024

अखिल भारतीय मानवतावादी पार्टी (एबीएमपी) ने दिल्ली के प्रेस क्लब ऑफ इंडिया में मंगलवार को आयोजित प्रेस वार्ता में पार्टी की पहचान, विचारधारा और उद्देश्यों के बारे में जानकारी प्रदान की। पार्टी के प्रमुख वक्ताओं ने चुनाव आयोग से मांग की है कि चुनाव आयोग सभी उम्मीदवारों को चुनाव लड़ने के लिए धन बतौर साधन मुहैया करे, ताकि चुनाव प्रक्रिया में समानता के अधिकार के उल्लंघन से संविधान को बचाया जा सके।

उन्होंने पार्टियों के प्रचार पर रोक, उम्मीदवारों/ जन प्रतिनिधियों द्वारा तीन साल में वादा नही पूरा करने पर संपत्ति जब्त का चुनाव आयोग द्वारा प्रावधान करने और राजनीतिक दलों का पुराना चुनाव चिन्ह समाप्त करने एवं और सभी उम्मीदवारों का बिना भेदभाव एक साथ चुनाव चिन्ह देने के लिए नियम बनाने की चुनाव आयोग से मांग की। इस मौके पर अखिल भारतीय मानवतावादी पार्टी राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री राम सागर गुप्ता बतौर मुख्यातिथि उपस्थित रहे। जबकि विशिष्ट अतिथि के तौर पर एबीएमपी के राष्ट्रीय महासचिव राम बहादुर माथुर, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष भिरगू नाथ यादव, राष्ट्रीय चुनाव अधिकारी हरेंद्र यादव, राष्ट्रीय सचिव सौदागर सिंह, प्रवक्ता डॉ. पीसी यादव, राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष लक्ष्मण गुप्ता, राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य सीमा गुप्ता, कार्यालय सचिव रामवीर सिंह, एबीएमपी कंट्रोल कमीशन चेयरमैन डॉ. विद्यार्थी प्रसाद, डॉ. ललित कौल और सी पीआई एम सदस्य अंजू गुप्ता सहित पार्टी के अन्य कार्यकर्ता मौजूद रहे।

इस प्रेसवार्ता के दौरान राम सागर गुप्ता ने कहा, ” चुनाव में 90 लाख रुपए तक खर्च निर्धारित है। यह बहुत ज्यादा है। क्योंकि जिनके पास धन होता है वो पार्टी ही इस वजह से चुनाव में आगे रहती हैं। यह एक प्रकार से चुनाव प्रक्रिया में समानता के अधिकार का उल्लंघन है। इसलिए चुनाव आयोग से मांग है कि वह इस मुद्दे पर चर्चा करें। जिससे सभी को समानता का अधिकार मिल सके।”

राम बहादुर माथुर ने चुनावी वित्त पर सीमा लगाने और उम्मीदवारों द्वारा धन खर्च का प्रावधान समाप्त करने की मांग की। उन्होंने कहा, “चुनाव प्रक्रिया में समर्थनीय और पारदर्शी नियम लागू किए जाने चाहिए।” उन्होंने बतौर प्रचार के लिए दो गाड़ी, दो सुरक्षाकर्मी और पांच समर्थक व दो महीने प्रचार करने देने की चुनाव आयोग से मांग की।

भिरगू नाथ यादव ने आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को चुनाव लड़ने का अवसर प्रदान करने की मांग की और हरेंद्र यादव ने चुनाव आयोग से इस बारे में नए नियम बनाने की गुहार लगाई। उन्होंने कहा, “ऐसे नियम बनाए जाएं जिनसे आम जनता को भी चुनावी प्रक्रिया में भाग लेने का अधिक अवसर मिले।”

पार्टी के वक्ताओं ने कहा कि यह प्रेस कांफ्रेंस एक महत्वपूर्ण कदम है जिसमें पार्टी ने अपने मांगों को लेकर सामाजिक समर्थन को जुटाने की कोशिश की है और लोकतांत्रिक प्रक्रियाओं में सुधार के लिए अपनी आवाज बुलंद की है। वक्ताओं ने सभी का आभार व्यक्त किया और उनके मांगों के लिए सभी के समर्थन और सहयोग की अपील की। इसके अलावा पार्टी ने लोकसभा चुनावों के लिए अपना घोषणा पत्र जारी किया और नये नियम के कंडीशन के साथ उम्मीदवारों के नामों का भी ऐलान किया।

Suditi Raje

Related Posts

पश्चिम बंगाल : भाजपा की केंद्रीय टीम ने चुनाव के बाद हुई हिंसा के पीड़ितों से मुलाकात की, रविशंकर ने ममता सरकार को घेरा

18 Jun 2024, रविशंकर प्रसाद ने बताया कि यह गांव अब शांत है। यहां कोई भी नहीं है। यह वह जगह थी, जहां भाजपा कार्यकर्ता आकर बैठते थे। लेकिन अब…

Read more

Andhra: लोकसभा और विधानसभा चुनावों में भारी हार के बाद जगन मोहन रेड्डी ने EVM पर नाराजगी जाहिर की, और मतपत्रों के उपयोग पर जोर दिया।

18 Jun 2024, YSRCP के नेता जगन मोहन रेड्डी ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर पोस्ट करते हुए कहा कि दुनिया के लगभग सभी उन्नत लोकतंत्रों में चुनावों में ईवीएम…

Read more

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

धर्म

अयोध्या: रामलला की प्राण प्रतिष्ठा कराने वाले पंडित लक्ष्मीकांत दीक्षित का 86 साल की उम्र में देहांत

अयोध्या: रामलला की प्राण प्रतिष्ठा कराने वाले पंडित लक्ष्मीकांत दीक्षित का 86 साल की उम्र में देहांत

रामचरितमानस और पंचतंत्र को UNESCO की तरफ से मिली मान्यता,’मेमोरी ऑफ द वर्ल्ड’ एशिया-पैसिफिक रीजनल रजिस्टर में होंगे शामिल

रामचरितमानस और पंचतंत्र को UNESCO की तरफ से मिली मान्यता,’मेमोरी ऑफ द वर्ल्ड’ एशिया-पैसिफिक रीजनल रजिस्टर में  होंगे शामिल

बीकानेर हाउस में आयोजित नौ दिवसीय ‘राजस्थान उत्सव-2024 में राजस्थानी हस्तशिल्प मेले का हुआ समापन

बीकानेर हाउस में आयोजित नौ दिवसीय ‘राजस्थान उत्सव-2024 में राजस्थानी हस्तशिल्प मेले का हुआ समापन

सड़क पर नमाज पढ़ रहे लोगों को पीटने वाला पुलिसकर्मी निलंबित: लोगों ने की कड़ी कार्रवाई की मांग

सड़क पर नमाज पढ़ रहे लोगों को पीटने वाला पुलिसकर्मी निलंबित: लोगों ने की कड़ी कार्रवाई की मांग

बैद्यनाथ धाम के पंचशूल में छिपी हैं कुछ अनसुनी कहानियां जानिए वहां क्या है खास ?

बैद्यनाथ धाम के पंचशूल में छिपी हैं कुछ अनसुनी कहानियां जानिए वहां क्या है खास ?

महाशिवरात्रि पर बैद्यनाथ धाम में भक्तों की भरमार, हर-हर महादेव की जय जयकार! ; देर शाम को निकलेगी शिव बारात

महाशिवरात्रि पर बैद्यनाथ धाम में भक्तों की भरमार, हर-हर महादेव की जय जयकार! ; देर शाम को निकलेगी शिव बारात